Aug 232019
 

राजस्थान हाउसिंग बोर्ड फ्लैट ऑनलाइन सेलिंग 2019-20 (Rajasthan Housing Board (RHB) Flats Selling Online (E-Auction) in Hindi)

भारत में पिछले कुछ सालों में बहुत से हाउसिंग बोर्ड के बहुत से घरों एवं फ्लैट्स का निर्माण हुआ है किन्तु वे बिक नहीं पा रहे हैं. इस पर ध्यान देने के लिए राजस्थान सरकार ने राजस्थान हाउसिंग बोर्ड योजना के माध्यम से ऐसे अतिरिक्त फ्लैट्स या घरों की ई – नीलामी करने का फैसला किया है. यह योजना का कैसे काम करेगी, यह सब जानकारी हम आपको यहाँ दे रहे हैं.

Rajasthan Housing Board Flats Selling Online

लांच की जानकारी (Launched Details)

योजना की जानकारी बिंदुयोजना की जानकारी
नामराजस्थान हाउसिंग बोर्ड योजना
लांचअगस्त, 2019
शुरुआत6 सितंबर
घोषणाराजस्थान हाउसिंग बोर्ड (आरएचबी) द्वारा
मंजूरीराजस्थान राज्य सरकार द्वारा
कुल फ्लैट्स की बिक्री7,075

  राजस्थान हाउसिंग बोर्ड योजना की विशेषताएं (Rajasthan Housing Board Scheme Features)

  • आरएचबी घरों की बिक्री :- इस योजना के माध्यम से कई सालों से राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के जो अतिरिक्त घर एवं फ्लैट नहीं बिक पा रहे थे, उनकी नीलामी होगी और उन घरों एवं फ्लैट्स की बिक्री हो सकेगी.
  • ऑनलाइन ई – नीलामी :- यह पहली बार होगा जब आरएचबी एक ई – नीलामी आयोजित करेगा, और ऑनलाइन मोड के माध्यम से उपयोगकर्ताओं को बिना किसी परेशानी के सेवाएं प्रदान करेगा.
  • कुल फ्लैट्स एवं घर :– इस योजना की शुरुआत में राज्य भर के विभिन्न श्रेणी के लगभग 7,075 घरों या फ्लैट्स की नीलामी कर उन्हें बेचे जाने का लक्ष्य तय किया गया है.
  • रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया :- इस योजना के तहत राजस्थान हाउसिंग बोर्ड ने घरों की नीलामी के लिए रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया का भी उपयोग किया है. इस प्रक्रिया में यह होता है कि लोगों को नीलामी जीतने के लिए और साथ ही घर या फ्लैट खरीदने के लिए न्यूनतम छूट दर पर बोली लगानी होगी. इसे आप इस तरह से समझ सकते हैं कि यदि कोई व्यक्ति 40% छूट के लिए बोली लगाता है और दूसरा कोई व्यक्ति 30% छूट के लिए बोली लगाता है तो आरएचबी उस व्यक्ति को घर बेचेगा, जिसने कम छूट की मांग की है.
  • छूट दरों की श्रेणी :- राजस्थान हाउसिंग बोर्ड ने छूट की दरों को 2 श्रेणियों में विभाजित किया है, पहली 0% से 25% और दूसरी 0% से 5%. व्यक्ति द्वारा छूट की जो पेशकश की गई है वह सही है या नहीं, इसका मूल्यांकन किया जायेगा जोकि स्थान, स्थिति और विभिन्न अन्य कारकों की जाँच के बाद किया जायेगा. अतः एक ही स्थान और हाउसिंग योजना में, राजस्थान हाउसिंग बोर्ड अलग – अलग डिस्काउंट के ब्रैकेट्स के तहत छूट की पेशकश करने जा रहा है.
  • ई – नीलामी की प्रक्रिया :– इस ऑनलाइन नीलामी की प्रक्रिया इस तरह से होगी कि जो बोली देने वाले व्यक्ति होंगे उन्हें लाभ पहुंचने के लिए राजस्थान हाउसिंग बोर्ड अपनी अधिकारिक वेबसाइट पर घरों के नक्शे और फोटो अपलोड कर देगा. इसके साथ ही उन सभी घरों की रिज़र्व कीमतों को भी तय करेगा, इसके लिए 6 सितंबर तक की समय सीमा तय की गई है. इसके बाद जो भी व्यक्ति इसमें बोली लगाना चाहते हैं वह ऑनलाइन माध्यम से लगा सकते हैं. इसके बाद जो बोली देने वाला व्यक्ति इसमें सफल होगा, उसे 3 दिनों के अंदर घर की कुल कीमत का 10% जमा करना होगा और बचे हुए के लिए 60 दिनों की समय सीमा तय की गई है जिसके अंदर उसे पैसे जमा करने होंगे.   

चूंकि रियल स्टेट बाजार में लम्बे समय से मंदी चल रही है, इसलिए कई खरीददार राजस्थान हाउसिंग बोर्ड के घरों को खरीदने में रुचि नहीं ले रहे हैं. राजस्थान हाउसिंग बोर्ड ने इससे पहले सामान्य कीमतों पर घरों एवं फ्लैट्स को बेचने का प्रयास किया था जोकि सफल नहीं हो सका. किन्तु अब इस योजना के माध्यम से राजस्थान हाउसिंग बोर्ड घरों और फ्लैट्स को बेचने में सफल हो सकता है.

Other links –

 Posted by at 8:45 am

Sorry, the comment form is closed at this time.