May 222020
 

हरियाणा शिक्षा लोन योजना 2020: सीएम खट्टर ने की शिक्षा ऋण के 7 छात्रों के लिए वित्तीय लाभ की घोषणा की

हरियाणा सरकार द्वारा बुधवार के दिन विभिन्न वित्तीय लाभों की घोषणा की गई। विद्यालयों में मुख्य घोषणा छात्रों के लिए की गई जिन्होंने शिक्षा ऋण लिया हुआ है और उन गरीब लोगों के लिए जो ऋण लेना चाहते हैं ताकि अपना व्यवसाय आरंभ कर सके। मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपने बयान में कहा कि राज्य सरकार द्वारा उठाए गए यह सारे उपाय केंद्र सरकार द्वारा पहले ही घोषित वित्तीय सहायता से भिन्न होंगे।

इस योजना के तहत उन सभी छात्रों को सम्मिलित किया गया है जिन्होंने शिक्षा के लिए ऋण लिया है और इस वर्ष अपनी शिक्षा पूरी करने जा रहे हैं। साथ ही इस योजना में वे लोग भी शामिल है जो अपना व्यवसाय आरंभ करने के लिए बैंक से ऋण ले चुके हैं परंतु अपना व्यवसाय आरंभ नहीं कर पाए हैं। व्यवसाय आरंभ ना होने की वजह से वे लोग अपना ऋण चुकाना आरंभ भी नहीं कर पाए हैं। ऐसे ऋण की राशि में भुगतान किया जाने वाला ब्याज अब हरियाणा सरकार द्वारा भरा जाएगा। आने वाले अगले 3 महीनों तक का भुगतान हरियाणा सरकार स्वयं राजस्व से करेगी।

हरियाणा सरकार द्वारा घोषित की गई इस योजना के तहत लगभग 36000 छात्रों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। इसके अतिरिक्त ₹400000000 जायेगा .

प्रधानमंत्री द्वारा घोषित किए गए मुद्रा ऋण के अंतर्गत शिशु ऋण के तहत 50,000 रुपए तक की ऋण राशि बैंकों के माध्यम से प्रदान की जाएगी तथा इसके बदले किसी भी प्रकार का कोई मूल्य नहीं लिया जाएगा।

गरीब लोगों के लिए छोटे व्यवसाय शुरू करने की योजना

इस वैश्विक महामारी के दौरान गरीब लोग बेघर हो चुके हैं और सड़क पर आ चुके हैं ऐसे लोगों को व्यवसाय आरंभ कराने के लिए भी छोटे स्तर पर बैंकों से लोन देना आरंभ किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत उन्हें 4% की ब्याज दर से 15000 रूपय का ऋण प्रदान किया जाएगा। उस ब्याज का 2% भुगतान हरियाणा सरकार द्वारा ही किया जाएगा लगभग तीन लाख लोगों को बैंक के माध्यम से ऋण प्रदान करने की सुविधा आरंभ की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि राज्य सरकार बैंकों और लोगों के बीच बेहतर संबंध बनाने की कोशिश कर रही है। और इस मुश्किल घड़ी के दौरान व्यवसाय आरंभ करने के लिए बैंक की महत्वपूर्ण भूमिका भी जारी की जाएगी। अक्सर देखा जाता है कि लोगों को लोन लेते समय काफी सारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। परंतु पिछले 3 महीने से जिस तरह सरकार द्वारा लोगों की मदद की जा रही है लगातार इतने बड़े पैमाने पर ई गवर्नेंस का इस्तेमाल किया जा रहा है।

सरकार द्वारा ई गवर्नेंस के उपयोगों को बैंक से जोड़ने का काम निरंतर किया जा रहा है। अमित के लिए हरियाणा सरकार द्वारा वेबपोर्टल भी आरंभ कर दिया गया है।  वेब पोर्टल के माध्यम से प्राप्त की जाने वाली सभी सेवाओं को अभी गवर्नेंस के साथ जोड़ा जाना आरंभ कर दिया गया है। इसका निर्धारण सरकार द्वारा किया जाएगा कि उन्हें किस योजना के तहत कौन सा लाभ लोगों तक पहुंचाना है और किस तरीके से।

हरियाणा सरकार ने कोविड-19 में बात करते हुए यही कहा कि आर्थिक गतिविधियों के विकास को ध्यान में रखते हुए हम इस महामारी से निरंतर लड़ते रहेंगे।  बीते बुधवार शाम को हरियाणा में लगभग 24 घंटों के अंदर 29 नए मामले देखे गए जिसके साथ हरियाणा में संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 993 हो गई। अब तक उसमें से 648 मरीज ठीक भी हो चुके हैं जिन्हें अस्पतालों से छुट्टी मिल गई है।

Other Links

  1. एसबीआई कॉमन कोविड इमरजेंसी क्रेडिट लाइन योजना
  2. KCR Apathbandhu Ambulance Scheme Telangana
  3. राजस्थान वृद्धजन पेंशन योजना
  4. राशन कार्ड नई लिस्ट हरियाणा 

 Posted by at 3:06 pm

 Leave a Reply

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

(required)

(required)